आईआईटी मुंबई, आईआइटी दिल्ली और आईआईएससी क्यूएस वैश्विक रैंकिंग में शीर्ष 200 में शामिल

आईआईटी मुंबई, आईआइटी दिल्ली और आईआईएससी क्यूएस वैश्विक रैंकिंग में शीर्ष 200 में शामिल

नई दिल्ली। भारत के तीन शैक्षणिक संस्थानों -- आईआईटी मुंबई, आईआईटी दिल्ली और बेंगलुरू स्थित आईआईएससी -- ने बुधवार को जारी क्वैकक्वारेली साइमोंड्सर् क्यू एसी वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में शीर्ष 200 संस्थानों में अपनी जगह बनाई है। साथ ही, हरियाणा के सोनीपत स्थित ओ पी ंिजदल ग्लोबल यूनिवर्सिटीर् जेजीयूी लंदन में जारी की गई क्यूएस वैश्विक  रैंकिंग 2020 में शीर्ष 1000 में शामिल किया जाने वाला सबसे नयार् नव स्थापिती विश्वविद्यालय हो गया है, जिसकी स्थापना 2009 में हुई थी। आईआईटी म्रदास, आईआईटी खडग़पुर, आईआईटी कानपुर और आईआईटी रूडक़ी शीर्ष 400 संस्थानों में शामिल हैं। आईआईटी गुवाहाटी 491 स्थान पर है, जबकि उसके पिछले साल की रैंंिकग 472 थी। वहीं, दिल्ली विश्वविद्यालय ने पिछले साल के 487 वें स्थान से 474 वें स्थान पर पहुंच गया है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने ट्वीट किया, ‘‘यह बड़े ही गर्व की बात है कि प्रतिष्ठित क्यूएस रैंंिकग में आईआईटी मुंबई, आईआईटी दिल्ली और आईआईएससीर् बेंगलुरुी ने शीर्ष 200 संस्थान में शामिल हुए हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस अवसर पर मैं हर किसी का शुव्रिच्च्या अदा करना चाहता हूं। हम अन्य संस्थानों को भी शैक्षणिक उत्कृष्टता के क्षेत्र में शीर्ष पर लेने जाने के लिए कटिबद्ध हैं।’’ एचआरडी मंत्रालय में उच्तर शिक्षा सचिव आर सुब्रहमण्यम ने ट्वीट किया, ‘‘वैश्विक रैंंिकग में सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा संस्थान आईआईटी खडग़पुर है जिसने पिछले साल की तुलना में 14 पायदान की छलांग लगाई है।’’ इस रैंंिकग में अन्य संस्थानों में जामिया मिलिया इस्लामिया, जादवपुर विश्वविद्यालय, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, हैदराबाद विश्वविद्यालय, कलकत्ता विश्वविद्यालय और मुंबई विश्वविद्यालय शामिल हैं। जेजीयू के संस्थापक कुलाधिपति नवीन ंिजदल ने कहा कि क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंंिकग 2020 में जेजीयू का प्रवेश करना एक असाधारण उपलब्धि है क्योंकि हम अपनी स्थापना की 10 वीं वर्षगांठ मना रहे हैं।