बरगी डेम के फिर खोले गए 17 गेट, घाटों पर सुरक्षा बढ़ी

बरगी डेम के फिर खोले गए 17 गेट, घाटों पर सुरक्षा बढ़ी

जबलपुर   मानसून के लगातार सक्रिय रहने से बारिश का आंकड़ा 57.5 इंच पार कर चुका है। आगामी घंटों में भारी बारिश की चेतावनी मौसम विभाग ने दी है। वहीं कैचमेंट एरिया में लगातार हो रही बारिश के चलते बरगी बांध के गेट बंद करने या कम करने की स्थिति अभी भी नहीं बन पा रहा है। गुरुवार को सुबह 15 गेट खोले गए, लेकिन पानी की आवक को देखते हुए गेट की संख्या और बढ़ा दी गई, अब 17 गेट से पानी छोड़ा जा रहा है। वहीं दूसरी ओर नर्मदा तटों का जल स्तर भी बढ़ गया है, ऐसे में गणेश विसर्जन हो रहा है, जिसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इस बार बारिश कुछ ज्यादा ही मेहरबान है, प्रदेश के करीब 32 जिलों में पानी का कहर जारी है, जिसके चलते एमपी के बांधों के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए गेट खोल दिए गए हैं। ऐसा ही कुछ नजारा बरगी डेम क  है, कैचमेंट एरिया में हो रही लगातार बारिश के चलते बरगी बांध के गेट कम करने या बंद करने की स्थिति नहीं बन पा रही है। एक दिन पहले बरगी बांध के 9 गेट खुले रहे, लेकिन कैचमेंट एरिया में हो रही बारिश के चलते गेट की संख्या बढ़ा आज सुबह 15 कर दी गई, इसके बाद भी बांध का जलस्तर कम नहीं हो रहा था। जिसके चलते बांध के दो गेट और खोल दिए गए। 2.91 मीटर तक खोले गए गेट डेम के 17 गेटों को 2. 91 मीटर ऊंचाई तक खोला गया है,जहां से करीब 2 लाख 70 हजार 795 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। गेट की संख्या बढ़ने के साथ साथ नर्मदा के घाटों पर जलस्तर एक बार फिर बढ़ गया है, वह भी ऐसे समय जब नर्मदा के घाटों पर गणेश विसर्जन को लेकर लोगों की भीड़ लगी हुई है, गणेश समितियों के सदस्य जुलूस के साथ पहुंच रहे है, जिसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है, लोगों को घाट की ओर जाने से रोका जा रहा है, विसर्जन के लिए पहुंच रहे लोगों को सीधे ग्वारीघाट में बनाए विसर्जन कुं ड की ओर रवाना किया जा रहा है।

ऐसा रहा गुरूवार को मौसम का मिजाज

गुरूवार को अधिकतम तापमान 26.3 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से 5 डिग्री कम रहा। वहीं न्यूनतम तापमान 24.6 डिग्री रहा जो कि सामान्य से2 डिग्री ज्यादा रहा। आर्द्रता93 प्रतिशत रही। सूर्योदय 5.56 तथा सूर्यास्त 6.15 बजे हुआ। मौसम विभाग ने आने वाले कुछ घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। विगत चौबीस घंटों में 30.2 मिमी बारिश हुई है।

यहां बढ़ाई गई सुरक्षा

सुरक्षा व्यवस्था ग्वारीघाट, जिलहरीघाट, दरोगाघाट, तिलवारा घाट, लम्हेटा व भेड़ाघाट तक बढ़ाई है। होमगार्ड की गोताखोर टीम लगातार भ्रमण कर रही है, वहीं पुलिस अधिकारी बल के साथ सुरक्षा व्यवस्था में जुटे हुए है। गौरतलब है कि बरगी बांध के गेट खुलने व उनकी संख्या बढ़ाए जाने की खबर के बाद गुरूवार को भी पर्यटकों की भीड़ देखने को मिली है। बांध के आसपास लगने वाले जाम को देखते हुए पुलिस बल तैनात किया गया है। यहां तक कि यहां पर भी गणेश विसर्जन को लेकर लोगों का आना जाना लगातार जारी है।